Army docter कैसे बनें ? ( how to become a army docter )

 

Army docter कैसे बनें ? ( how to become a army docter) : 

यदि आप मेडिकल के क्षेत्र में अपनी पढ़ाई कर रहे हैं और आगे चलकर आप भारतीय सेनाओं में एक डॉक्टर के पद पर देश की सेवा कर गौरवान्वित होना चाहते हैं। तो यह पोस्ट आपके लिए है इस पोस्ट में आर्मी में डॉक्टर बनने के संबंध में बात की गई है।


आर्मी में सभी प्रकार के सैनिकों के चिकित्सा की व्यवस्था एफएमएस (AFMS) द्वारा किया था ए एफ एम एस का पूरा नाम armed forces medical services द्वारा होता है । भारतीय सेनाओं तथा आर्मी में चिकित्सा सहायता हेतु AFMS द्वारा डॉक्टर की नियुक्ति होती है। 


इस पोस्ट में हम जानेंगे कि आर्मी डॉक्टर (army doctor) कैसे बने ? ( How to become a army doctor  ? ) Indian army में डॉक्टर कैसे बनें ? आर्मी में डॉक्टर बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए ? कौन से कोर्स करने होते हैं आर्मी में डॉक्टर बनने के लिए? आर्मी में डॉक्टर बनने के लिए फीस कितनी लगती है ? आर्मी में डॉक्टर की सैलेरी कितनी होती है ? इन सभी प्रश्नों का उत्तर इस पोस्ट में मिलेगा तो इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढे।

Army docter कैसे बनें ? ( How to become a army docter)


आर्मी में डॉक्टर का कार्य 


सरकार द्वारा आर्मी में सेनाओं को चिकित्सा सहायता देने के लिए नियुक्त किए गए डॉक्टरों का प्रमुख कार्य किसी कारणवश या युद्ध के दौरान घायल हुए सेनाओं को उपयुक्त समय पर इलाज तथा सही ट्रीटमेंट देना है। यदि घायल सेनाओं को समय से पहले ट्रीटमेंट ना दिया जाए तो उनकी जान भी जा सकती है इसलिए आर्मी के डॉक्टर की भूमिका भारतीय सेनाओं में बहुत अधिक होती है। 


आर्मी में डॉक्टर बनने के लिए योग्यताएं


एक आर्मी में डॉक्टर बनने के लिए आवेदक के पास निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए।

  • आवेदक 12 वीं पास होना चाहिए।
  • अभी तक काम 12वीं में बायोलॉजी फिजिक्स और केमिस्ट्री होना चाहिए यानी पीसीबी ( PCB) होना अनिवार्य है। 
  • आवेदक की उम्र 17 से 21 वर्ष होनी चाहिए


आर्मी डॉक्टर (army doctor) कैसे बने?

भारत के तीनों सेनाओं डॉक्टर बनने के लिए 2 तरीके होते हैं। 


1. AFMS द्वारा निकाली भर्ती द्वारा 

2. NEET द्वारा AFMC कॉलेज में प्रवेश लेकर 


1. AFMS द्वारा निकाली भर्ती द्वारा  


आर्मी में डॉक्टर बनने के पहले तरीके के बारे में बात करें जब भारती सेनाओं में आर्मी के लिए डॉक्टर की जरूरत पड़ती है तो सेनाओं को चिकित्सा देने वाले AFMS द्वारा समय समय पर डॉक्टर की भर्ती होती है। जैसे लिए एक एमबीबीएस पास करने वाला आवेदक आवेदन कर सकता है।  


एमबीबीएस पास करने वाला ही आवेदक इसके लिए आवेदन कर सकता है। इसके बाद उसे AFMS द्वारा कराए गए परीक्षा को पास करके आसानी से आर्मी में डॉक्टर बन सकते है।  


2. NEET द्वारा AFMC कॉलेज में प्रवेश लेकर 


यदि आप अभी 10 वी या 12 वी में पढ़ाई कर रहे है। तो उपरोक्त तरीका आपके लिए उचित नही है। इसके लिए आपको निम्न चरण से बताया जा रहा है कि आप आर्मी में डॉक्टर कैसे बन सकते है । 


1. प्रारंभिक शिक्षा 12 वी पास करे 


आर्मी में डॉक्टर बनने के लिए सबसे पहले किसी भी आवेदक को अपनी प्रारंभिक शिक्षा में 12वीं पास करना अनिवार्य है तथा 12वीं में मुख्य विषय बायोलॉजी फिजिक्स केमिस्ट्री होना आवश्यक है। आवेदक 12वीं पास करके ही आर्मी बनने के अगले चरण के लिए योग्य माना जाता है।



 2. NEET का प्रवेश परीक्षा दें


जब आवेदक अपनी प्रारंभिक शिक्षा 12वी पास कर लेता है तो आर्मी में डॉक्टर बनने के लिए नीट एंट्रेंस एग्जाम देना होता है एंट्रेंस एग्जाम के द्वारा ही AFMC कॉलेज में एडमिशन मिलता है। एफएमसी का पूरा नाम आर्म्ड फोर्स मेडिकल कॉलेज होता है। इस कॉलेज में जो आवेदक NEET का प्रवेश परीक्षा को पास करते है उन्हे ही प्रवेश मिलता है। इसमें आर्मी में डॉक्टर बनने हेतु पढ़ाई कराई जाती है । 


3. AFMC college से पढ़ाई पूरी करें


जैसे ही आप NEET का प्रवेश परीक्षा पास करते हैं। उसके बाद AFMC कॉलेज के द्वारा आपको कॉलेज में एडमिशन मिलता है । जहा से आपको आर्मी में डॉक्टर की पढ़ाई कराई जाती है। जिसके बाद आप आर्मी में डॉक्टर बन जाते है । 


4. आर्मी में डॉक्टर का चयन 


जब आप AFMC कॉलेज से आर्मी डॉक्टर की पढ़ाई पूरी कर लेते है। वैसे ही AFMS जो सेनाओं को चिकित्सा प्रदान करती है । उसके द्वारा डायरेक्ट पढ़ाई करने के बाद डॉक्टर के पद पर नियुक्ति होती है। और आप अपना कैरियर एक आर्मी में डॉक्टर बन के पूरा करते है।  



आर्मी में डॉक्टर की सैलरी 


आपके मन में यह तो सवाल उठ ही रहा होगा एक आर्मी में डॉक्टर बनने के बाद हम कितना कमा सकते हैं क्या एक सामान्य डॉक्टर से आर्मी के डॉक्टर की सैलरी होती है एक आर्मी में डॉक्टर की सैलरी । आर्मी डॉक्टर की शुरुआती सैलरी लगभग 80 हजार रुपए होती है। यह सैलरी कुछ वर्षो के बाद लाखो तक होती है।  


एक आर्मी डॉक्टर (army doctor)की सामान्य डॉक्टर से तुलना करें तो एक एमबीबीएस डॉक्टर आर्मी डॉक्टर से अधिक कमा सकता है । लेकिन सबसे अधिक जॉब सिक्योरिटी आर्मी डॉक्टर की ही होती है । इसमें जॉब सुरक्षित होती है। इसके अलावा सेनानिवृति अर्थात रिटायरमेंट से समय बहुत से फायदे मिलते है । बाद में जब आप रिटायरमेंट के बाद आपको अच्छी पेंशन भी मिलती है। जो की एक सामान्य डॉक्टर से कहीं अधिक अच्छा है । 


AFMC college में प्रमुख कोर्स :

अफएमसी कॉलेज से निम्नलिखित डिग्रियां 

आवेदकों को प्रदान की जाती है –

  • MBBS 
  • BSc in nursing 
  • Post graduate in nursing 
  • Diploma in pharmcy 
  • Post graduate diploma in pharmacy
  • BPMT ( bachelor of para medical technology) 



आज के इस पोस्ट " army doctor कैसे बनें " में बस इतना ही उम्मीद करते है की आप लोगों को हमारा आज का यह पोस्ट " आर्मी  डॉक्टर (army doctor) कैसे बने " बेहद पसंद आया होगा। यदि अभी भी आपका कोई सवाल है सुझाव हो आर्मी में डॉक्टर बनने के संबंध में तो हमें कमेंट में अवश्य लिखें हम आपके कमेंट को पढ़कर उत्तर अवश्य देंगे मिलते हैं ।आपसे अगले पोस्ट में तब तक के लिए ।


धन्यवाद 

जय हिंद वंदे मातरम





एक टिप्पणी भेजें

4 टिप्पणियाँ

दोस्तों आपको यह पोस्ट कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं